Mp board 11th फसल उत्पादन त्रैमासिक पेपर 2021 IMP/Q

3

Mp board 11th फसल उत्पादन त्रैमासिक पेपर 2021 IMP/Q

MP board class 11th fasal utpadan trimasik paper 2021-22 :- दोस्तों अगर आप क्लास 11th फसल उत्पादन त्रैमासक पेपर की तैयारी करना चाहते हैं तो तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं क्योंकि हम आपको क्लास 11th फसल उत्पादन एवं खाद्यान्न शास्त्र की कुछ मुख्य इंपोर्टेंट क्वेश्चन आपको बताने वाले हैं जो कि त्रैमासिक परीक्षा के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और साथ में आपको बताएंगे कि आपका जो त्रैमासिक पेपर है वह कहां से और कौन कौन से टॉपिक आपके पेपर में आएंगे इसलिए आप इस पोस्ट को पूरा ध्यान से बस से पढ़िए।

फसल उत्पादन एवं उद्यान शास्त्र त्रैमासिक परीक्षा के लिए Syllabus

दोस्तों अगर आप फसल उत्पादन एवं उद्यान शास्त्र के सिलेबस के बारे में नहीं जानते प्रेम आशिक परीक्षा के लिए कौन कौन से पाठ्यक्रम में से आपका क्वेश्चन पेपर आने वाला है तो आप नीचे देख सकते हैं क्लास 11th फसल उत्पादन एवं उद्यान शास्त्र त्रैमासिक पेपर के लिए पाठ्यक्रम दिया गया है

Mp board 11th फसल उत्पादन त्रैमासिक पेपर 2021 IMP/Q



  कक्षा 11th

    फसल उत्पादन

     एवं 

    उद्यानशास्त्र

      कृषि परिचय

Mp board 11th फसल उत्पादन त्रैमासिक पेपर 2021-22 IMP क्वेश्चन

प्रश्न 1. कृषि विकास के अध्ययन को कितने भागों में बाँटा जा सकता है ?

प्रश्न 2. स्थानान्तरित खेती या झूमिंग खेती से आप क्या समझते हैं ? 

प्रश्न 3. कृषि का अर्थ बताइए।

प्रश्न 4. टिकाऊ कृषि से आप क्या समझते हैं ?

प्रश्न 5. भारतीय कृषि में अर्जित क्रान्तियों के चार नाम

लिखिए।

प्रश्न 6. कृषि के व्यवसायीकरण के प्रमुख क्षेत्र बताइए (कोई दो)

प्रश्न 7. कृषि उत्पादन के प्रमुख साधन लिखिए।

प्रश्न 8. राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में कृषि का महत्त्व या योगदान लिखिए।

                      अथवा

भारतीय अर्थव्यवस्था में फसल उत्पादन के कोई दो महत्त्व लिखिए। 

प्रश्न 9. कृषि के व्यवसायीकरण की आवश्यकता क्यों है ? कोई चार बिन्दु लिखिए।

                           अथवा

कृषि व्यवसायीकरण की आवश्यकता के कोई तीन प्रमुख कारण लिखिए। 

           खेती के प्रकार एवं प्रणालियाँ

प्रश्न 1. खेती के प्रमुख प्रकारों के नाम लिखिए।

प्रश्न 2. सामान्य खेती से आपका क्या तात्पर्य है ?

प्रश्न 3. विशिष्ट खेती किसे कहते हैं ?

प्रश्न 4. भारत में शुष्क खेती के चार क्षेत्र लिखिए।

प्रश्न 5. मिश्रित खेती (Mixed Farming) की परिभाषा लिखिए।

प्रश्न 6. रेन्चिंग खेती किसे कहते हैं ?

प्रश्न 7. जैविक (जीवांश) खेती से क्या तात्पर्य है ?

प्रश्न 8. विशिष्ट खेती के चार लाभ लिखिए।

प्रश्न 9. मिश्रित खेती के लाभ लिखिए।

प्रश्न 10. जैविक खेती का महत्त्व एवं उपयोगिता बताइए।

                       अथवा

जैविक खेती के कोई चार महत्त्व लिखिए।

प्रश्न 11. शुष्क खेती हेतु जल संरक्षण की विधियाँ लिखिए।

                        अथवा

शुष्क खेती करने की विधि बताइए।

प्रश्न12. खेती की प्रणालियों से आप क्या समझते हैं ? खेती की प्रमुख प्रणालियों का वर्णन कीजिए।

                           

        फसलों का वर्गीकरण एवं फसल चक्र

प्रश्न 1. फसल को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 2. किन्हीं चार औषधि फसलों के नाम लिखिए।

प्रश्न 3. नकदी फसलें (Cash crops) किसे कहते हैं

प्रश्न 4. कीट आकर्षक फसलें (Trap crops) किसे कहते हैं ?

प्रश्न 5. ‘फसल चक्र’ की परिभाषा दीजिए।

प्रश्न 6. फसल से आपका क्या अभिप्राय है? ऋतुओं के आधार पर इसका वर्गीकरण कीजिए।

                          अथवा

ऋतुओं के आधार पर फसलों का वर्गीकरण उदाहरण सहित कीजिए l

प्रश्न 7. उपयोगिता के आधार पर फसलों का वर्गीकरण उदाहरण सहित कीजिए।

प्रश्न 8. एकबीजपत्री फसलों के पाँच वानस्पतिक नाम एवं कुल लिखिए।

                          अथवा

धान्य फसलों के वानस्पतिक नाम लिखिए। 

प्रश्न 9. फसल चक्र पर प्रभाव डालने वाले कारकों के नाम लिखिए।

प्रश्न 10 शस्य सघनता क्या है ? इसको प्रभावित करने वाले कारकों का वर्णन कीजिए।

प्रश्न 11. फसल चक्र को प्रभावित करने वाले कारकों का वर्णन कीजिए।

                   मिश्रित फसलें

प्रश्न 1. मिश्रित फसल (Mixed Cropping) की परिभाषा लिखिए।

प्रश्न 2. ‘अन्तर्वर्ती खेती’ या ‘सह खेती’ (Inter Cropping) को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 3. मिश्रित फसल से क्या लाभ हैं ?

                   अथवा

मिश्रित फसल का महत्त्व बताइए।

प्रश्न 4. मिश्रित फसल की हानियाँ लिखिए।

प्रश्न 5. ओवरलेपिंग क्रोपिंग (Overlapping Cropping) को उदाहरण सहित समझाइए।

प्रश्न 6. अन्तर्वर्ती खेती (सह-खेती) के प्रमुख लाभ बताइए।

                         अथवा

अन्तराशस्य का महत्त्व चार बिन्दुओं में लिखिए।

प्रश्न 7. बहुफसली खेती के महत्त्व लिखिए।

                        अथवा

बहुफसली खेती के चार लाभ लिखिए।

प्रश्न 8. मिश्रित फसल से आपका क्या तात्पर्य है ? इसके प्रमुख सिद्धान्त बताइए। 

                       अथवा

मिश्रित (मिलवाँ) फसलों के सिद्धान्त का वर्णन कीजिए। 

                      अथवा

मिश्रित फसल के चार सिद्धान्त लिखिए।

                        मृदा

प्रश्न 1. मृदा को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 2. मृदा निर्माण की प्रमुख भौतिक शक्तियों के नाम लिखिए।

प्रश्न 3. मृदा निर्माण को प्रभावित करने वाले कारकों के नाम लिखिए।

प्रश्न 4. मृदा का संघटन लिखिए।

               अथवा

मृदा अवयवों के नाम एवं प्रतिशत मात्रा लिखिए।

प्रश्न 5. मृदा जल किसे कहते हैं तथा यह कितने प्रकार का होता है ?

प्रश्न 6. मृदा निर्माण की कोई चार रासायनिक शक्तियों के नाम लिखिए।

प्रश्न 7. मृदा का निर्माण कैसे होता है ?

प्रश्न 8. मृदा परिच्छेदिका से आपका क्या तात्पर्य है ?

प्रश्न 9.मृदा में जीवांश (जैव) पदार्थ का क्या महत्त्व है ?

प्रश्न 10. मृदा निर्माण की रासायनिक शक्तियाँ क्या हैं ? वर्णन कीजिए।

                             अथवा

रासायनिक क्रियाओं द्वारा चट्टानें किस प्रकार टूटती हैं ?

                             अथवा

मृदा निर्माण की रासायनिक क्रियाओं को समझाइए।

                  मृदा के भौतिक गुण

प्रश्न 1. मृदा संरचना या मृदा विन्यास को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 2. कृषि के लिए किस प्रकार का मृदा विन्यास सबसे अच्छा माना जाता है और क्यों ?

प्रश्न 3. कृषि कार्यों के लिए उत्तम मिट्टी की विशेषताएँ बताइए।

प्रश्न 4. मृदा घनत्व से आप क्या समझते हैं तथा यह कितने प्रकार का होता है ?

प्रश्न 5. मृदा के रंग को प्रभावित करने वाले कारक कौन-कौन से हैं ?

प्रश्न 6. मृदा उर्वरता को परिभाषित कीजिए।

प्रश्न 7. अन्तर्राष्ट्रीय प्रणाली के आधार पर मृदा कणों का वर्गीकरण कीजिए।

                           अथवा

मृदा कणों के आकारानुसार मिट्टी का वर्गीकरण कीजिए।

प्रश्न 8. रन्ध्रावकाश का महत्त्व बताइए l

प्रश्न 9. मृदा संरचना में आसंजन एवं ससंजन बलों का महत्त्व बताइए l

प्रश्न 10. मृदा के pH का उसके भौतिक गुणों पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

प्रश्न 11. मृदा जल से आप क्या समझते हैं तथा यह कितने प्रकार का होता है ?

            अम्लीय एवं क्षारीय मृदाएँ

प्रश्न 1. अम्लीय मृदा किसे कहते हैं ?

प्रश्न 2. क्षारीय मृदाएँ किसे कहते हैं ?

प्रश्न 3. ऊसर भूमि को सुधारने की किन्हीं दो विधियों के नाम लिखिए।

प्रश्न 4. अम्लीयता का पौधों एवं मृदा पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

प्रश्न 5. अम्लीय मृदा में चूना मिलाने के कोई पाँच लाभ लिखिए।

प्रश्न 6. लवणीय एवं क्षारीय मृदाओं में प्रमुख अन्तर लिखिए।

प्रश्न 7. क्षारीयता का पौधों एवं मृदा पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

                            अथवा

 क्षारीय मृदाओं का मृदा एवं पौधों पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

प्रश्न 8. अम्लीय एवं क्षारीय मृदाओं में अन्तर लिखिए |

प्रश्न 9. अम्लीय मृदाओं को सुधारने की पाँच विधियाँ लिखिए। 

                          अथवा

अम्लीय मृदा सुधार के चार उपाय लिखिए ।

प्रश्न 10. क्षारीय (ऊसर) भूमि के सुधार के उपायों का वर्णन कीजिए।

                          अथवा

क्षारीय मृदा सुधारने की रासायनिक विधि को विस्तार से लिखिए। 

                          अथवा

क्षारीय मृदा के सुधार के कोई चार भौतिक उपाय लिखिए।

                           अथवा

क्षारीय मृदा सुधार के उपाय लिखिए।

          मृदा क्षरण एवं मृदा संरक्षण

प्रश्न 1. मृदा क्षरण कितने प्रकार का होता है ?

प्रश्न 2. जल क्षरण किसे कहते हैं ? इसके प्रमुख प्रकार बताइए।

प्रश्न 3. भूमि संरक्षण (मृदा संरक्षण) किसे कहते हैं ?

प्रश्न 4. मृदा संरक्षण का महत्त्व बताइए।

प्रश्न 5. मृदा क्षरण किसे कहते हैं ? मृदा क्षरण को प्रभावित करने वाले कारकों का उल्लेख कीजिए।

प्रश्न 6. जल द्वारा होने वाले मृदा क्षरण का वर्णन कीजिए।

                          अथवा

जल द्वारा मृदा क्षरण कितने प्रकार का होता है ? समझाइए ।

                           अथवा

मृदा जल क्षरण को संक्षेप में समझाइए

प्रश्न 7. मृदा क्षरण (भू-क्षरण) से होने वाली हानियाँ बताइए।

                           अथवा

मृदा क्षरण या भू-क्षरण के प्रभाव बताइए।

                            अथवा

जल द्वारा मृदा क्षरण से होने वाली चार हानियाँ लिखिए।

प्रश्न 8. मृदा संरक्षण (भू-संरक्षण) के उपायों को लिखिए।

                             अथवा

मृदा संरक्षण किसे कहते हैं ? मृदा संरक्षण के उपाय लिखिए।

                             अथवा

मृदा क्षरण (भूमि कटाव) की रोकथाम के प्रमुख उपाय क्या हैं ?

                         भू-परिष्करण

प्रश्न 1. प्राथमिक भू-परिष्करण के अन्तर्गत की जाने वाली क्रियाएँ कौन-कौन सी हैं ?

प्रश्न 2. द्वितीयक भू-परिष्करण किसे कहते हैं ?

प्रश्न 3. न्यूनतम भू-परिष्करण किसे कहते हैं ?

प्रश्न 4. जुताई को परिभाषित कर इसके कोई दो उद्देश्य लिखिए। 

                           अथवा

जुताई के दो उद्देश्य लिखिए।

प्रश्न 5. शून्य भू-परिष्करण किसे कहते हैं ? यह किस प्रकार की भूमि में उत्तम रहता है तथा इसमें खरपतवारों का नियन्त्रण किस प्रकार किया जाता है ?

प्रश्न 6. भू-परिष्करण से आप क्या समझते हैं तथा यह कितने प्रकार का होता है ?इसके उद्देश्य भी बताइए।

प्रश्न 7. भू-परिष्करण किसे कहते हैं ? इसके अन्तर्गत कौन-कौन-सी क्रियाएँ की जाती हैं ? इसका महत्त्व भी बताइए।

प्रश्न 8. भू-परिष्करण की आधुनिक अवधारणा का वर्णन करते हुए न्यूनतम भू-परिष्करण के लाभ बताइए।

Note– दोस्तों अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो जल्दी से अपने दोस्तों के साथ उसे भी सेंड कर दीजिए।

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here