MP board क्लास 12th अर्थशास्त्र मासिक टेस्ट full solution 2021-22

0

MP board क्लास 12th अर्थशास्त्र मासिक टेस्ट full solution 2021-22

Economics masik test – दोस्तों आज हम आपके लिए अगस्त माह में आयोजित होने वाले कक्षा 12वी का मासिक टेस्ट solution लेकर आए हैं फ्रेंड्स यदि आप 12वी कक्षा के  economics विषय का मासिक टेस्ट सॉल्यूशन गूगल पर सर्च कर रहे हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आ गए हैं हम आपके लिए economics के सभी प्रश्नों के उत्तर उपलब्ध कराएंगे। तो आप इस पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें।


Class 12th अर्थशास्त्र मासिक टेस्ट full solution 2021-

प्रश्न 1.  व वस्तुनिष्ठ प्रश्न सही विकल्प चुनकर लिखिए-

1.  नियम लिखित में से कौन सा कथन सत्य है।
उत्तर-  (अ.)  हमारी आवश्यकताएं हमेशा संसाधनों से अधिक होती हैं ।
2.  जब सीमांत लागत घटती है तो कुल लागत ………
उत्तर-  घटती दर से बढ़ती है।
3.  हम कब कहेंगे की बाजार में किसी वस्तु की अधिपूर्ती की है ।
उत्तर-  बाजार पूर्ति का बाजार मांग से अधिक होना
4.  उत्पादन शुरू होने पर अल्पकाल में स्थिर लागत ……
प्राथमिक समंक होते हैं।
उत्तर-  मौलिक

प्रश्न 2.  निम्नलिखित में से किन्ही 3 प्रश्नों के उत्तर दीजिए-

1. आदर्शक आर्थिक विश्लेषण से क्या अभिप्राय है?
उत्तर- आदर्शक आर्थिक विश्लेषण का अभिप्राय ऐसी अध्ययन से होता है जिसका सीधा संबंध आदर्शों या नियमों से होता है। इस आर्थिक विश्लेषण के आधार पर हम यह जानने का प्रयास करते हैं की विभिन्न स्थितियां हमारे अनुकूल है भी या नहीं।

2.  उत्पादन फलन किसे कहते हैं?
उत्तर-  उत्पादन फलन वह होता है जो एक निश्चित अवधि में होने वाले उत्पादन की मात्रा तथा उत्पादन का आकार दोनों के बीच भौतिक  संबंध दर्शाता है।
3.  पैमाने की प्रतिफल किसे कहते हैं? 
उत्तर-  एक ही पैमाने के कई प्रतिरूप तैयार करना उस पैमाने का प्रतिफल कहलाते हैं ।  अर्थात  उत्पादन को बढ़ाने के लिए उसके संसाधनों को पिछले अनुपात में ही रखते हुए उनकी मात्रा में व्रद्धि करना पिछले पैमाने का प्रतिफल कहलाता है।
4.  न्यूनतम समर्थन कीमत किसे कहते हैं? 
उत्तर-  न्यूनतम समर्थन मूल्य एक बिक्री की दर है जिस पर सरकार किसानों की फसल खरीदती है तथा जो उनकी उत्पादन लागत का 10 गुना होती है यह एक ऐसा मूल्य होता है जिसे सरकार किसानों के लिए लाभकारी मानती है।
5.  संतुलन कीमत का अर्थ लिखिए।
उत्तर-  जिस कीमत पर किसी वस्तु की मांगी गई मात्रा उसकी आपूर्ति की मात्रा के बराबर हो । उसे सन्तुलन कीमत कहते हैं। सन्तुलन कीमत पर वस्तु की मांग की गई  मात्रा  उसकी आपूर्ति की मात्रा के बराबर होती है । वस्तु कि यह मात्रा संतुलन मात्रा कहलाती है।

प्रश्न 3. निम्नलिखित में से किन्ही तीन प्रश्नों के उत्तर दीजिए-

1.   स्थानापन्न वस्तु में क्या होती है ऐसी दो वस्तुओं के उदाहरण दीजिए जो एक दूसरे के स्थानापन्न  हो।
उत्तर-  स्थानापन्न का अभिप्राय उन वस्तुओं से है जो एक  ही उद्देश्य की पूर्ति के लिए एक दूसरे के स्थान पर प्रयोग की जा सकती है। स्थानापन्न वस्तुओं में एक वस्तु की मांग तथा दूसरी वस्तु की कीमत में धनात्मक संबंध होता है एक वस्तु की कीमत बढ़ने पर उसकी स्थानापन्न वस्तु की मांग भी बढ़ती है उसी प्रकार इसके विपरीत भी।
उदाहरण-    चाय  और कॉफी, चीनी और गुड़।
2.     अल्प कल तथा शीघ्र काल की संकल्पना को
स्पष्ट कीजिए-
उत्तर-  अल्पकाल वह समय अवधि है जिसमें उत्पादन के कुछ साधन स्तर होते हैं तथा कुछ परवर्ती साधन होते हैं इसलिए उत्पादन वर्ग केवल परावर्ती साधनों को बढ़ाकर ही बढ़ाया जा सकता है दीर्घकाल बहन समय अवधि है जिसमें उत्पादन के सभी साधन परिवर्ती होते हैं।

3. आपातकालीन सीमांत लागत वक्र  U आकार के क्यों होते हैं?
उतर-  आपातकालीन सीमांत लागत वक्र U आकार का इसलिए होता है की यह उत्पादन प्रतिफल  की तीनों अवस्थाओं को बताता है एवं एक बिंदु पर सीमांत लागत न्यूनतम हो जाता है उसके बाद ऊपर उठने लगता है अर्थात इकाई सीमांत लागत बढ़ने लगती है जिसके कारण सीमांत लागत U  आकार का हो जाता है।
4.   पूर्ण प्रतियोगिता बाजार की विशेषताएं बताइए-
उत्तर-   पूर्ण प्रतियोगिता :-  प्रतियोगी बाजार वह बाजार है जिसमें क्रेता और विक्रेता के मध्य वस्तुओं का क्रय विक्रय प्रतियोगिता के आधार पर होता है इसके अतिरिक्त व्यक्तिगत रूप से कोई भी फॉर्म या व्यक्ति वस्तु के मूल्य को प्रभावित नहीं कर सकता। पूर्ण प्रतियोगिता में वस्तु का मूल्य प्रत्येक स्थान पर एक समान रहता है।
पूर्ण प्रतियोगिता पर बाजार की विशेषताएं निम्नलिखित है-
  • क्रेता तथा विक्रेता की अधिक :-  संख्या पूर्ण प्रतियोगित के अंतर्गत बाजार में क्रेता तथा विक्रेता अधिक संख्या में उपस्थित रहते हैं

  • बाजार का पूर्ण ज्ञान :-  क्रेता विक्रेता दोनों कोही बाजार का पूर्ण ज्ञान रहता है इसलिए वह प्रचलित मूल्य पर अपनी वस्तुओं का क्रय विक्रय करते है। 

  • वस्तु बाजार में एक समान वस्तु उपलब्ध रहती है चाहे वह किसी भी उत्पादक द्वारा उत्पन्न की जाए तथा वस्तु का प्रमाणीकरण होता है।

  • स्वतंत्र प्रवेश तथा बरगमन – पूर्ण प्रतियोगिता में फलों का प्रवेश तथा वर्तमान स्वतंत्र होता है कथा तथा इसमें किसी प्रकार की बाधा यह रुकावट नहीं होती है।

Note – दोस्तों यदि आपको हमारे द्वारा दिया गया यह हल पसन्द आया हो तो इसे अपने दोस्तों से जरूर शेयर करें और उनकी हेल्प करें तथा हमें कमेन्ट करें और फीडबेक देना न भूलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here