10वी ,12वी के बाद इंजीनियर कैसे बने पूरी जानकारी

10वी ,12वी के बाद इंजीनियर कैसे बने पूरी जानकारी

engineer kaise bane, इंजीनियर कितने प्रकार के होते हैं, कंप्यूटर इंजीनियर कैसे बने, सॉफ्टवेयर इंजीनियर, सिविल इंजीनियर कैसे बने,इंजीनियरिंग कोर्स,सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग कोर्स फीस, 10th ke baad engineer kaise bane,12 ke baad engineer kaise bane

Hello friends welcome to studygro.com दोस्तों आज की पीढ़ी के बच्चों को आसान शौक पसन्द नहीं आते आज अगर किसी से पूछा जाए कि क्या बनोगे बड़े होकर तो जबाब में डॉक्टर, इंजीनीयर,वैज्ञानिक जैसे नाम ही सुनने को मिलते है । दोस्तो मंजिल तक पहुँचने के लिए सही रास्ते की जानकारी बेहद जरूरी होती है तो दोस्तो आज हम आपको इंजीनियर बनने की पूरी प्रक्रिया की जानकारी देने वाले हैं अगर आप भी इंजीनियर बनना चाहते हैं तो आपके हर सवाल जैसे कि 10वी के बाद इंजीनियर कैसे बने ?इंजीनियर कितने प्रकार के होते हैं?इंजीनियर के कोन- कोन से कोर्सेज होते है?इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश कैसे ले ?इंजीनियर कोर्स कितने साल का होता है ? इंजीनियर बनने के फायदे क्या है ?नोकरी के अवसर कितने हैं? इन सबका जवाब आज आपको इस पोस्ट में मिलने वाला है।तो  पोस्ट को ध्यान पूर्वक अवश्य पढ़ें चलिए जानते हैं पूरी प्रक्रिया।-

10वी के बाद इंजीनियर कैसे बने-

दोस्तों यदि आप भी इंजीनियर बनना चाहते है तो 10वी से ही तैयारी कर सकते हैं पोलिटेक्निकल डिप्लोमा कर सकते हैं लेकिन दोस्तों 10वी के बाद सिर्फ डिप्लोमा होता है यदि आप बेचलर डीग्री करना चाहते हैं तो 12वी के बाद ही कर सकते हैं लेकिन साथियों आप 10वी के बाद भी जूनियर डिप्लोमा के बाद बैचलर डिग्री कर सकते हैं । अंतर सिर्फ इतना है कि 10वी के बाद आप जूनियर इंजीनियर बनते हैं और12वी के बाद इंजीनियर बनते हैं । 10वी के बाद का कोर्स 3 साल का होता है और 12वी के बाद का कोर्स 4 साल का होता है। 

इंजीनियर  किसे कहते हैं?-

दोस्तों इंजीनियर उसे कहते हैं जो अपनी काबिलियत और हुनर के बल परअपने प्रोफ़ेशन के सम्बंध में नए – नए प्रयोग करके कोई अविष्कार करता है इंजीनियर विशेष आवश्यकता को पूरा करने के लिये तकनीकी उत्पाद व प्रणाली का उत्पादन करता है ।उसे ही एक सफल इंजीनियर कहा जाता है।

इंजीनयरिंग कॉलेज में एडमिशन प्रक्रिया –

इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन के लिए आपको12वी में स्टेट लेवल आल इंडिया एग्जाम jeet देना होता है इसमें पास होने पर जो रैंक आपको मिलती है उसके हिसाब से आपको सरकारी या प्राईवेट कॉलेज में एडमिशन मिलता है  अच्छी रैंक पर सरकारी कॉलेज मिलता है जिसमे फीस कम लगती है  और बाकी सब को प्राइवेट कॉलेज मिलताहै जिसमे फीस अधिक लगती है ।

Jeet exam petern

Medium                    hindi/english

Paper                        offline/online 

Marks.                     1 right answer -4 marks

Negative marks.       1 wrong answer -1                                              marks cut

Subject            Question       marks

Mathematics.          30                120

Physics.                   30                120

Chemistry.               30                120

Total.                       90                360

Engineer कितने प्रकार के होते हैं-

इंजीनियर कई प्रकार के होते हैं जैसे electronic engineer, mechanical engineer ,sivil engineer,computer engineer , software engineer, energy engineer, hidrolic engineer,agro engineer, technology engineer,oshian engineer, petroliyam engineer, nuclear, engineer,chemical engineer,airospace engineer environmental engineer,textile engineer,geologycal engineer,automobile engineer,robotics and automation engineer, manufacturing and production engineer, petrochemical engineer,electronics and communication engineer,biomedical engineer and biochemical engineer 

B.tech examination-

Time period.                    4 year

Minimum qualification.   12th,PCM stream                                              PCB specialized

Admission process.         Merit based

Average fee.                    40000-50000/years

Enternship.                        2 year /last year 

Age limit.                           18 to 25 year old

B.Tech के बाद नौकरी के अवसर-

B.tech के बाद आप कई प्रकार की कंपनी में जॉब कर सकते है आप जिस साखा के एनजीनयेर है उसपर डिपेंड करता है की आपकी सैलरी क्या होगी इंजीनियर को बहुत शानदार सैलरी मिलती ही है । प्राइवेट सरकारी व सार्वजनिक  क्षेत्र की यूनिट कंपनियां इंजीनियर  को अच्छी सैलरी के साथ बेहतरीन नौकरियां प्रदान करती है।PSU-public service under takings in india की कंपनी ,इंडियन आर्मी ,रेलवे, gell,bhel,NTPC,BSNL,NSO etc. में भी नोकरियां पाने के अच्छे अवसर होते हैं।

इंजीनीयर बनने के फायदे-

इंजीनीयर बनने के बहुत फायदे होते है तरक्की के इस दौर में इंजीनियर का बहुत बड़ा नाम है ।हर सेक्टर में इंजीनियर की मांग है ।दोस्तों डिजिटल बन रहे इंडिया को अच्छे इंजीनियर की बहुत जरूरत है ऐसे में आप एक अच्छे कंप्यूटर इंजीनियर बन सकते है ।औटोमोबाईल और मशीनों के बढ़ते प्रभाव के चलते आप औटोमोबिल और इलेक्ट्रोनिक इंजीनियर बन सकते है Iवहीं अगर आप चाहे तो सिविल इंजीनियर भी बन सकते है क्योंकि विकास के इस दौर में सड़क निर्माण आदि की बहुत डिमांड होती है ।दोस्तों इंजीनियर के क्षेत्र में बहुत अच्छी कमाई होती है आप बहुत जल्द बुलंदी के शिखर को पहुंच जाते हैं हां मेहनत भी बहुत ज्यादा करनी होती है लेकिन लाभ भी उतना ही ज्यादा होता है दोस्तों आगे हम इसमें आपको इंजीनियर की सैलरी के बारे में बताते हैं चलिए दोस्तों-

इंजीनियर की सेलेरी कितनी होती है –

दोस्तो इंजीनियर की बहुत अच्छी कमाई होती है इसको 4.5-5लाख सालाना कमाई हो सकती है । अच्छी और बड़ी कंपनी आपको शानदार सैलरी पैकेज दे सकती हैं ।

तो दोस्तों आज अपने इस पोस्ट में जाना कि एक सफल इंजीनियर बनने के लिए आपको कोन- कोन से स्टेप फॉलो करने की जरूरत है आज आपने जाना कि 10वी के बाद आप इंजीनियर कैसे बन सकते है ?इंजीनियर कितने प्रकार के होते हैं?इंजीनियर में कोन से कोर्सेज होते हैं/इंजीनियर के प्रकार ,इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन प्रक्रिया केसी होती है ?B.techके बाद नॉकरी के क्या अवसर हैं? इंजीनियर बनने के क्या फायदे होते है? इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है ?उम्मीद है दोस्तों आपको हमारी ये जसनकारी पसन्द आई होगी अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे दूसरों से भी शेयर कीजिये।हमे कम्मेंट कीजिए और फीडबैक देना बिल्कुल न भूलें।

हमारी पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत – बहुत शुक्रिया

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here