बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के प्रश्न उत्तर | TET Exam Question

1

बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के प्रश्न उत्तर

TET Exam की तैयारी के लिए बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र प्रश्न उत्तर जरूर पूछे जाते हैं अगर आप TET Exam की तैयारी में लगे हुए हैं तो आप नीचे दिए गए बाल विकास शिक्षा शास्त्र के प्रश्न उत्तर आप जरूर पढ़ें


सरकारी टीचर बनने के लिए टेट एग्जाम को पास करना होता है तब जाकर सरकारी टीचर बन पाते हैं सरकारी टीचर के सिलेबस में बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के प्रश्न उत्तर भी आते हैं

TET Exam Question बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र

1. बच्चों में ज्ञान की रचना करने और अर्थ का निर्माण करने की क्षमता होती है। इस प्रेरिप्रेक्ष्य में एक शिक्षक की भूमिका है?


(a) सम्प्रेषक और व्याख्यता की

(b) सुगमकर्ता की

(c) निर्देशक की

(d) तालमेल बैठाने वाले की

उत्तर -A

2. इनमें से कौन-सी विशेषता प्रतिभाशाली बच्चों की नहीं है?

(a) उच्च आत्म दक्षता

(b) निम्न औसतीय मानसिक प्रक्रियाएं

(c) अन्तर्दृष्टिपूर्वक समस्याओं का समाधान करना

(d) उच्चतर श्रेणी की मानसिक प्रक्रियाएं

उत्तर -B

3. कोलबर्ग के सिद्धांत के पूर्व-परम्परागत स्तर के अनुसार, कोई नैतिक निर्णय लेते समय व्यक्ति निम्नलिखित में से किस तरफ प्रवृत्त होगा?

(a) व्यक्तिगत आवश्यकताएं तथा इच्छाएं

(b) व्यक्तिगत मूल्य

(c) पारिवारिक अपेक्षाएं

(d) अन्तर्निहित सम्भावित दंड

उत्तर -D

4. शिक्षार्थियों (अधिगमकर्ता) की वैयक्तिक विभिन्नताओं के संदर्भ में शिक्षिका को चाहिए?

(a) निगमनात्मक पद्धति के आधार पर समस्याओं का समाधान करना

(b) कलनविधि (एल्गोरिथ्म) का अधिकतर प्रयोग करना

(c) याद करने के लिए शिक्षार्थियों को तथ्य उपलब्ध कराना

(d) विविध प्रकार की अधिगम परिस्थितियों को उपलब्ध कराना

उत्तर -B

5. निम्नलिखित में कौन-सा बाल सिद्धांत नहीं है?

(a) विकास के सभी क्षेत्र महत्त्वपूर्ण हैं

(b) सभी विकास तथा अधिगम एकसमान

गति से आगे बढ़ते हैं।

(c) सभी विकास परिपक्वन तथा अनुभव

की अन्त:क्रिया का परिणाम होते हैं

(d) उपर्युक्त सभी

उत्तर -B

6. निम्नलिखित में से कौन-सा आकलन करने

का सर्वाधिक उपयुक्त तरीका है?

(a) आकलन शिक्षण-अधिगम में अन्तर्निहित

प्रक्रिया है

(b) आकलन एक शैक्षणिक सत्र में दो बार

करना चाहिए

(c) आकलन शिक्षक के द्वारा नहीं बल्कि

किसी बाह्य एजेन्सी के द्वारा कराना चाहिए।

(d) आकलन सत्र की समाप्ति पर करना चाहिए

उत्तर -B

7. निम्नलिखित में से कौन-सा सृजनात्मकता से संबंधित है?

(a) अभिसारी चिन्तन

(b) सांवेगिक चिन्तन

(c) अहंवादी चिन्तन

(d) अपसारी चिन्तन

उत्तर -C

8. बच्चों के बारे में निम्नलिखित कथनों में से किस कथन से वाइगोत्स्की सहमत होते हैं?

(a) बच्चे तब सीखते हैं जब उनके लिए आकर्षक पुरस्कार निर्धारित किए जाएं

(b) बच्चों के चिन्तन को तब समझाया जा सकता है जब प्रयोगशाला में पशुओं पर प्रयोग किए जाएं

(c) बच्चे जन्म से शैतान होते हैं और उन्हें दंड देकर नियन्त्रित किया जाना चाहिए

(d) बच्चे समवयस्कों और वयस्कों के साथ सामाजिक अन्त:क्रियाओं के माध्यम से सीखते हैं

उत्तर -A

9. बच्चे-

(a) चिन्तन में वयस्कों की भांति ही होते हैं और ज्यों-ज्यों वे बड़े होते हैं उनके चिन्तन में गुणात्मक वृद्धि होती है

(b) खाली बर्तन के समान होते हैं जिससे बड़ों के द्वारा दिया गया ज्ञान भरा जाता है

(c) निष्क्रिय जीव होते हैं जो अपने चारों ओर से जगत को खोजने के लिए अपने ही तर्कों और क्षमताओं का उपयोग करते हैं

(d) जिज्ञासु प्राणी होते हैं जो अपने चारों ओर से जगत को खोजने के लिए अपने ही तर्कों और क्षमताओं का उपयोग करते हैं।

उत्तर -C

10. बच्चों की त्रुटियों के बारे में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सत्य है?

(a) बच्चों की त्रुटियां उनके सीखने की प्रक्रिया अंग है।

(b) बच्चे की त्रुटियां शिक्षक के लिए महत्वहीन हैं और उसे चाहिए कि उन्हें काट दे और उन पर अधिक ध्यान न दें।

(c) बच्चे कम त्रुटियां करते हैं जब शिक्षक सौम्य हो और उन्हें त्रुटियां करने पर दंड न देता हो।

(d) असावधानी के कारण बच्चे त्रुटियां करते हैं।

उत्तर -B

11. अध्यापक को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उसकी कक्षा में सभी शिक्षार्थी अपने आपको स्वीकृत और सम्मानित समझें। इसके लिए शिक्षक को चाहिए कि वह

(a) वंचित पृष्ठभूमि से आने वाले बच्चों का तिरस्कार करे ताकि वे अनुभव करें कि उन्हें अधिक कठोर परिश्रम करना है।

(b) उन शिक्षार्थियों का पता लगाए जो अच्छी अग्रेजी बोल सकते हैं और सम्पन्न घरों से हों उन्हें आदर्श के रूप से प्रस्तुत करे।

(c) अपने शिक्षार्थियों की सामाजिक और सांस्कृतिक पृष्ठभूमि की जानकारी प्राप्त करे और कक्षा में विविध मतों को प्रोत्साहित करे।

(d) कड़े नियम बनाएं और जो बच्चे उनका

पालन न करें उन्हें दंड दें।

उत्तर -C

12. सुरेश सामान्य रूप से एक शांत कमरे में अकेले पढ़ना चाहता है, जबकि मदन एक समूह में अपने मित्रों के साथ पढ़ना चाहता है। यह उनके में विभिन्नता के कारण है।

(a) अभिक्षमता

(b) अधिगम शैली

(c) परावर्कता-स्तर

(d) मूल्यों

उत्तर -A


Tags, बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के प्रश्न उत्तर बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र Book PDF बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र Lucent book pdfबाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र टेस्ट Lucent बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र PDF Download बाल विकास प्रैक्टिस टेस्ट शिक्षा शास्त्र की किताब शिक्षा शास्त्र नोट्स

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here